Blog और Website में क्या Difference या अंतर है ?

20

आपने कभी ना कभी Blogging के बारे में जरूर सुना होगा। अगर आप भी Blogging सीख रहे हैं तो आपको कई सारी बातें ऐसी है जो जानना पड़ेगा ही, इनमें से एक बात एक बड़ा Difference भी है जो कि Blog और Website में है। 

अगर आप भी उन लोगों में से हो जो कि यह सोचते हैं कि Blog और Website एक ही होता है तो आप बहुत ही गलत हो। Blog और Website बिल्कुल भी एक जैसे नहीं होते।

लेकिन फिर भी कई सारे लोग ऐसे हैं जो कि Blog और Website में Difference नहीं समझते। अगर आप इन दोनों के बीच में Difference जानना चाहते हो तो इस पोस्ट को पढ़ते रहिए क्योंकि आज मैं आपको इस पोस्ट में Blog और Website के बीच में Difference बताने जा रहा हूं।

इसको जाने के लिए सबसे पहले जो बात आती है वह यह है कि एक Blog क्या है और एक Website क्या है। तो चलिए इनके बारे में जानते हैं।

Blog और Website में क्या Difference या अंतर है ? 1

Blog क्या है ? What is a Blog in Hindi ? Blog Kya Hai ?

एक Blog एक तरह से एक ऐसा Web Page होता है जहां पर एक Blogger यानी कि उस Web Page को Handle करने वाला व्यक्ति अपने ज्ञान को और लोगों से Share करता है या अपनी मन की बातें लोगों को Share करता है अर्थात अपने Blog पर अपलोड करता है।

सही मायने में कहा जाए तो जैसे कि एक प्रकार से कोई व्यक्ति किताब लिखता है तो वह है एक लेखक होता है और अगर वही व्यक्ति किताब की जगह है Blog लिखता है तो वह एक Blogger होता है।

इन दोनों में फर्क सिर्फ इतना होता है कि एक इंसान कागज पर लिख रहा है और एक इंसान Online अपनी वेबसाइट पर लिख रहा है। Blog भी एक तरह से वेबसाइट की है लेकिन इन दोनों में काफी Difference है क्योंकि Blog तो एक तरह से वेबसाइट है लेकिन हर Website एक Blog नहीं होती।

एक Blog पर कई सारे तरह के Content उपलब्ध होते हैं। आप अपने मनपसंद तरीके के Blog को Blogger या वर्डप्रेस जैसी वेबसाइट की Help से आसानी से बना सकते हैं। अगर आप अपने Blog को Blogger पर बनाते हैं तो आपको ₹1 तक देने की जरूरत नहीं होती है।

आप एक Blog पर अपने ख्यालों को बांट सकते हैं अन्य लोगों के साथ और आप चाहे तो Personal तरीके से भी Blogging कर सकते हैं जैसा कि आप अपनी Personal डायरी में लिखते हैं।

जो एक प्रोफेशनल Blogger होता है वह अपने Blog को रोजाना Update करता है और वह अपने Blog पर नए नए और शानदार Content डालता रहता है ताकि वह तेजी से आगे बढ़ सके। एक Blog में हम कई सारे तरह के डिजाइन और टेंपलेट वगैरा अपनी पसंद के अनुसार डाल सकते हैं।

अगर आप Blog पर मेहनत करके रोजाना पोस्ट लिखते हो तो वह धीरे-धीरे आगे बढ़ता है और फिर बाद में आपको अच्छा फल भी मिलता है यह बिल्कुल उसी तरह से है जैसे कि आप एक सोने की खान खोदते हो जिसमें पहले तो आपको काफी मेहनत करनी पड़ती है लेकिन बाद में आपको इसमें काफी बढ़िया फल भी मिलता है। अब हम यहां पर Blog की कुछ पॉइंट में क्वालिफिकेशन की बात करेंगे।

Ek Blog Ki Khubiya or एक ब्लॉग की विशेषता 

###1 . Blog पर एक Comment एक System होता है जो कि Readers को पोस्ट पढ़ने के बाद उनके क्या विचार है यह Comment में बताने के लिए दिया जाता है। Blogger उसका रिप्लाई भी कर सकते हैं और वह Readers को कोई डाउट होने पर संतुष्ट कर सकते हैं।

###2 . Blog पर कोई भी Blog पोस्ट केटेगरी आर्चिव और उसको लिखने वाले व्यक्ति के नाम के साथ होता है यानी कि Blog पर काफी सारी ऐसी चीजें होती है जिनसे कि हमें यह पता लगता है कि वह पोस्ट कब और किसके द्वारा लिखा गया और क्यों लिखा गया।

###3 . Blog पर RSS का प्रयोग भी किया जा सकता है जिससे कि आपके Readers आपके Blog पोस्ट को सबसे पहले पढ़ सकते हैं। तो चलिए Blog की बातें तो खूब हो गई अब एक वेबसाइट की बातें कर लेते हैं।

वेबसाइट किसे कहते है ? What is Website in Hindi ? Website Kya Hota Hai ?

अब एक वेबसाइट के बारे में कहा जाए तो वेबसाइट किसी भी तरीके को लेकर और कैसी भी हो सकती है। कुछ Website ऐसी भी हो सकती है जिन पर आपको Videos की एक लिस्ट देखने को मिले और आप उन पर Video को देख सकते हैं और कुछ वेबसाइट ऐसी भी हो सकती है जहां पर आप अपनी समस्या को सर्च करके उसका समाधान पा सके।

साथ ही कुछ वेबसाइट किसी कंपनी की Personal Website भी होती है। वेबसाइट का निर्माण कई सारी Language और उनकी Programming के द्वारा किया जाता है जिनका सबसे सर्वश्रेष्ठ उदाहरण जावास्क्रिप्ट और HTML और सीएसएस आदी है।

अगर आप चाहो तो एक वेबसाइट एक Blog भी हो सकती है लेकिन हर वेबसाइट एक Blog नहीं हो सकती जैसे कि Facebook पर एक Website है लेकिन Facebook को एक Blog बिलकुल नहीं कहा जा सकता।

एक वेबसाइट के कई सारे काम होते हैं जैसे कि कई सारी v ऐसी भी होती है जिन पर आप फोटो को एडिट कर सकते हो और Google भी एक तरह की वेबसाइट ही है। YouTube जहां पर आप Video देखते हो वह भी एक वेबसाइट ही है।

अनतः आपको किसी भी वेबसाइट पर जानकारियां नहीं मिलती जैसे कि अगर आप कोई टूल वेबसाइट विजिट कर रहे हैं तो वहां पर आपको किसी Blog की तरह जानकारियां नहीं मिलेगी।

Difference Between Blog And Website in Hindi, ब्लॉग और वेबसाइट में क्या अंतर है ??

किसी भी Blog और Website में काफी सारा Difference होता है और अगर देखा जाए तो इनमें कुछ भी Difference नहीं होता यानी कि यह बात काफी कंफ्यूजन वाली है। लेकिन अगर आप इनकी पहचान करना चाहते हो तो आसानी से कर सकते हो क्योंकि एक Blog एक Website से काफी अलग होता है।

Blog पर हमेशा जानकारियां होती है भले ही वह डिजाइन में अलग-अलग होते हो लेकिन एक Blog पर आपको कई सारी जानकारियां देखने को मिलेगी चाहे वह एक चीज पर हो या अलग अलग चीज पर।

सभी Blog के डिजाइन अलग-अलग होती है और कुछ Blog की डिजाइन आपको मेल खाती हुई भी मिल सकती है लेकिन वेबसाइट के डिजाइन अधिकतर अलग ही होती है। अधिकतर जो बड़ी वेबसाइट होती है उनको जावा स्क्रिप्ट HTML और सीएसएस की Help से बनाया जाता है।

कई सारी अलग-अलग वेबसाइट के अलग-अलग व्यूज हो सकते हैं। अगर मैं आपको सही से समझाऊं तो एक अंगूर एक फल है लेकिन हर फल अंगूर नही है उसी प्रकार एक Blog Website होता है लेकिन हर Website एक Blog नहीं होती है। उदाहरण के लिए Aajtak.in एक प्रकार का Blog है और Facebook.com एक प्रकार की Website है।

सभी आम फल हैं, पर सभी फल आम नहीं, उसी प्रकार सभी blogs websites हैं,परन्तु सभी websites blogs नहीं है  [All Mangoes are fruits but not all fruits are Mangoes ’ Same‘ All blogs are websites but not all websites are blogs ]

हेल्लो दोस्तों कैसा लगा हमारा ये post आप हमें निचे  Comment Box में बताये,अगर आपको हमारा पोस्ट पसंद आया हो तो इससे आप social media पर share जरुर करे,article के पहले और बाद में शेयर button लगा रखा है,हमारे new पोस्ट का notification पाने के लिए Bell Icon जरुर press करे,और कोई भी  miss न हो इसके लिए Newslater जरुर subscribe कर ले ताकि हमारी सभी पोस्ट Free में आपको email पर मिल जाये |

आप हमारे पोस्ट को इतने प्यार से पढ़ते है इसके लिए दिल से धन्यबाद, मै जनता हु आपके प्यार के सामने  Thank you बहुत छोटा word है,मुझे उम्मीद है आपने मुझे Facebook,   Twitter,     Instagram,    Youtube,     Linkedin,    Email Newslater,     Telegram,   पर Followe कर रखे है,आप अपना कीमती समय दिए इसके लिए फिर से धन्यबाद |

पिछला पोस्टPm Shram Yogi Maan Dhan Yojana in Hindi
अगला पोस्टHindi Vs Hinglish Blog,Hindi में लिखे या Hinglish में 100% Perfect
मै Ravi Kumar, मै एक Teacher(math,Computer) हूँ,और साथ मे Internet और Technology पर Post लिखना मुझे पसंद है,मै फ्री-टाइम में HindiStartup पर Post डालता हूँ. आप सभी से request है इस साईट को सफल बनाने की मेरी कोशिश में अपना सहयोग दें. अगर आपको यह Post अच्छा लगा हो तो कृपया इसे Facebook And Other Social Media पर Share जरूर करें| आपका यह प्रयास हमें और अच्छे Article लिखने के लिए प्रेरित करेगा| HindiStartup.com को The best Hindi Blog बनाने के लिए बस आप लोग अपना साथ बनाए रखे और हमें सपोर्ट करते रहें |

20 कॉमेंट्स

  1. Ye sawal bahut se logon Ke man me aata hai. ki blog aur website me kya fark hota hai.
    yahan tak ki mujhe malum nahi tha. so aaj aapki post ne sabhi kuchh bata diya vo bhi hindi me sir , bahut achha laga aapki yah post….

जवाब दे

अपना कोमेंट लिखे
अपना नाम लिखे

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.